भारतीय रेल ने ‘वन टच लांच की !


Third party image reference
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना’ लांच की, इस योजना को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में लांच किया गया। इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री स्मृति इरानी भी मौजूद रहीं।

योजना की विशेषताएं

  • इसका उद्देश्य बालिकाओं का सशक्तिकरण सुनिश्चित करना है। इस योजना के तहत बालिका के जन्म पर प्रत्येक परिवार को 15,000 रुपये प्रदान किये जायेंगे।
  • सरकार इस धनराशी को कई चरणों में लाभार्थी के खाते में भेजेगी, यह राशि कई उपलब्धियों जैसे टीकाकरण, 1, 5, 9 तथा ग्रेजुएशन में एडमिशन इत्यादि के अवसर पर दी जायेगी।
  • इस मौके पर कन्या सुमंगला वेब पोर्टल भी लांच किया गया।
  • अब तक इस योजना के लिए 1.25 लाख पंजीकरण किये जा चुके हैं। इस योजना के लिए 1 अप्रैल, 2019 के बाद पैदा होने वाली बालिकाएं योग्य हैं।

कन्या सुमंगला योजना उत्तर प्रदेश क्या हैं [Kanya Sumangala Yojana]

  • हमारे देश में लड़कियों को आज भी बोझ समझा जाता है. कई जगह पैदा होते साथ उन्हें मार दिया जाता है. आर्थिक तंगी की वजह से लड़कियों को आगे पढाई करने नहीं दी जाती है. इसी के चलते राज्य सरकार योजना ला रही है.
  • कन्या सुमंगला योजना से लड़कियों की उच्च शिक्षा, अच्छा स्वास्थ्य एवं भविष्य के लिए मुख्यमंत्री योगी जी ने योजना का एलन किया है.
  • कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत जन्म से लेकर उसकी शादी तक 6 चरण में सरकार आर्थिक मदद देगी. इससे प्रदेश में बाल विवाह जैसी कुप्रथा का भी अंत होगा.
सबसे पहले बच्ची के जन्म के समय2000 रूपए1 साल का टीकाकरण होने के बाद 1000 रूपएपहली कक्षा में प्रवेश 2000 रूपएफिर छटवीं में प्रवेश के बाद2000 रूपएनौवीं में प्रवेश के बाद3000 रूपएस्नातक या 2 साल का कोई डिप्लोमा कोर्स5000 रूपएकुल राशी15 हजार रूपए
इन चरणों में सरकार लड़की के नाम पर पैसा उसके बैंक अकाउंट में जमा करेगी. 
  • सरकार ने इस योजना के तहत 1200 करोड़ का बजट तय किया है, जो इस योजना के विकास कार्य में लगाया जायेगा.
  • लड़की के जन्म के बाद अभिभावकों को 6 महीने के अंदर उसका नाम इस योजना में रजिस्टर करना अनिवार्य होगा, अन्यथा वे इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं कर पाएंगी. 

कन्या सुमंगला योजना पात्रता (Kanya Sumangala Scheme Eligibility Criteria) –

  • कन्या सुमंगला योजना का लाभ लेने के लिए लड़की का यूपी राज्य का मूल निवासी होना अनिवार्य है, उसका जन्म उसी प्रदेश में होगा तभी इस योजना का वह लाभ उठा पायेगी.
  • योजना का लाभ उसी परिवार को मिलेगा, जिसकी वार्षिक आय 3 लाख से कम है. इससे अधिक आय वाले परिवार इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते.
  • अधिकारीयों ने कहा है कि अप्रैल 2019 से जन्मी बच्चियां इस पूरी योजना का लाभ उठा सकती है. 
  • जिन बच्चियों का जन्म 1 अप्रैल 2018 से 31 मार्च 2019 के बीच हुआ है, तो वे इस योजना का लाभ उठा सकती है, लेकिन उनका 1 साल तक का टीकाकरण होना अनिवार्य है. जिसमे बाद उन्हें आगे की श्रेणियों का लाभ सरकार द्वारा मिल जायेगा. 
  • एक परिवार से अधिकतम 2 लड़कियों को ही इसका लाभ मिलेगा, लेकिन अगर 1 लड़की के जन्म के बाद दुसरे बच्चे के समय 2 जुड़वाँ लड़की होती है, तो उस परिवार की तीनों लड़कियां इस योजना की पात्र मानी जाएँगी. 

जरुरी दस्तावेज (Kanya Sumangala Yojana Documents) – 

  • बैंक खाता पासबुक
  • निवास प्रमाण्पत्र
  • फोटो आइडेंटिटी कार्ड
  • आय प्रमाणपत्र
  • आधार कार्ड
Reactions